WhatsApp Jokes

Send your post with Name and Pictures on our WhatsApp No. 081-2650-5665 to publish here.


Feb. 19, 2017

सुप्रभात आपका दिन मंगलमय हो

सुप्रभात आपका दिन मंगलमय हो

by RoorkeeWeb

जैसा कर्म करोगे वैसा ही फल मिलेगा , बुरे कर्मों का फल हमेशा बुरा ही होता है

ये सच है कि हम जैसे कर्म करते है, हमें उसका वैसा ही फल मिलता है। हमारे द्वारा किये गए कर्म ही हमारे पाप और पुण्य तय करते है। हम अच्छे कर्म करते है तो हमें उसके अच्छे फल मिलते है और अगर हम बुरे कर्म करते है तो हमें उसके बुरे फल मिलते है। हमारे जीवन में जो भी परेशानियां आती हैं, उनका संबंध कहीं ना कहीं हमारे कर्मों से होता है।

कबीरदास जी का ये दोहा हमें हमेशा ये एहसास दिलाता है कि बुरे कर्मों का फल हमेशा बुरा ही होता है।


Feb. 15, 2017

वाट्अप पर मॅसेज ज्यादा से ज्यादा फारवर्ड करे।

वाट्अप पर मॅसेज ज्यादा से ज्यादा फारवर्ड करे।

by RoorkeeWeb

देखिए यह बच्ची कितनी खुबसुरत है,बिल्कुल गुडिया के जैसी,मगर ऑंखों मे रोशनी नहीं है।हमें पैसे नहीं देने है सिर्फ वाट्अप पर मॅसेज ज्यादा से ज्यादा फारवर्डदेखिए यह बच्ची कितनी खुबसुरत है,बिल्कुल गुडिया के जैसी,मगर ऑंखों मे रोशनी नहीं है।हमें पैसे नहीं देने है सिर्फ वाट्अप पर मॅसेज ज्यादा से ज्यादा फारवर्ड कर के इसकी मदद करना है।हर मॅसेज पर इसके खाते में 1 पैसा जमा होते रहेगा और फिर उन जमा पैसों से इसके ऑंख का ऑपरेशन होगा।भगवान की कृपा हुई तो यह खुहसुरत गुडिया दुनिया देख सकेगी।भगवान इस पर अपनी कृपा दृष्टि बनाए रख्खे इसी दुआ के साथ। कर के इसकी मदद करना है।हर मॅसेज पर इसके खाते में 1 पैसा जमा होते रहेगा और फिर उन जमा पैसों से इसके ऑंख का ऑपरेशन होगा।भगवान की कृपा हुई तो यह खुहसुरत गुडिया दुनिया देख सकेगी।भगवान इस पर अपनी कृपा दृष्टि बनाए रख्खे इसी दुआ के साथ।


Feb. 14, 2017

सुप्रभात आपका दिन मंगलमय हो

सुप्रभात आपका दिन मंगलमय हो

by RoorkeeWeb

*सुबह की "चाय" और बड़ों की "राय"*
समय-समय पर लेते रहना चाहिए.....
*पानी के बिना, नदी बेकार है*
अतिथि के बिना, आँगन बेकार है।*
*प्रेम न हो तो, सगे-सम्बन्धी बेकार है।*
पैसा न हो तो, पोकेट बेकार है।
*और जीवन में गुरु न हो*
तो जीवन बेकार है।
इसलिए जीवन में
*"गुरु"जरुरी है।*
*"गुरुर" नही"*

हँसते रहिये, हँसाते रहिये सभी का साथ, यूँ ही निभाते रहिये
*आपका दिन मंगलमय हो*


सुप्रभात


Feb. 13, 2017

सन्ता- बन्ता

सन्ता- बन्ता

by RoorkeeWeb

पुलिस संता से :- तुम्हारा दोस्त कैसे मरा?

संता पुलिस से :- पता नही! बोल रहा था की पेट में चूहे कूद रहे है,

तो मैंने चूहे मारने की दवा पानी में घोलकर पिला दी.


Feb. 13, 2017

राजनीति

राजनीति

by RoorkeeWeb

प्रिय मित्रों राजनीति के चक्कर में आपसी सम्बन्ध न बिगाड़े ।अगर आपका कोई मित्र आपसे अलग विचारधारा रखता है तो इसका ये मतलब नहीं हैं कि वो विद्रोही है।सरदार भगत सिंह कम्यूनिस्ट विचारधारा रखते थे,बिस्मिल आर्यसमाजी थे, और सब के सब देशभक्त थे।जब किसी को खून की जरुरत होती है तो शायद ही किसी पार्टी का नेता देने जाता हो लेकिन आपका दोस्त जरूर जायेगा।जो आपके लिए खून दे सकता है उससे राजनीतिक बात पर बहस न करें ।कही ऐसा न हो आप तर्क तो जीत जाये और सम्बन्ध हार जाये।

धन्यवाद



Feb. 13, 2017

market-may-bilkul-new-hai-

market-may-bilkul-new-hai-

by RoorkeeWeb

Market may bilkul new hai


चुनाव का समय आ गया है ।



नेता जी
प्रचार करने निकल पडे



नेता - हाँ । अब सही समय आ गया है ।


जनता - क्या आप देश को लूट खाओगे ?


नेता - बिल्कुल नही ।


जनता - हमारे लिए काम करोगे ?


नेता - हाँ । बहुत ।


जनता - महगांई बढ़ाओगे ?


नेता - इसके बारे में तो सोचो भी मत ।


जनता - आप हमे जॉब दिलाने में मदद करोगे ?


नेता - हाँ । बिल्कुल करेँगे ।


जनता - क्या आप देश मे घोटाला करोगे ?


नेता - पागल हो गए हो क्या बिलकुल नहीं ।


जनता - क्या हम आप पर भरोसा कर सकते हैं ?


नेता - हाँ


जनता - नेता जी ...


चुनाव जीतकर नेताजी वापस आये ।





*अब आप ,*
*नीचे से ऊपर पढ़ो* ।


Feb. 10, 2017

Dedicated to  All Couples

Dedicated to All Couples

by RoorkeeWeb

अपनी गृहस्थी को कुछ
इस तरह बचा लिया करो
कभी आँखें दिखा दी
कभी सर झुका लिया करो

आपसी नाराज़गी को लम्बा
चलने ही न दिया करो
वो न भी हंसें तो
तुम मुस्करा दिया करो

रूठ कर बैठे रहने से
घर भला कहाँ चलते हैं
कभी उन्होंने गुदगुदा दिया
कभी तुम मना लिया करो

खाने पीने पे विवाद
कभी होने ही न दिया करो
कभी गरम खा ली
कभी बासी से काम चला लिया करो

मीयां हो या बीबी
महत्व में कोई भी कम नहीं
कभी खुद डॉन बन गए
तो कभी उन्हें बॉस बना दिया करो

अपनी गृहस्थी को कुछ
इस तरह बचा लिया करो...

Dedicated to All Couples


Feb. 10, 2017

भीमराव अंबेडकर

भीमराव अंबेडकर

by RoorkeeWeb

जिस समय चन्द्रशेखर आज़ाद, भगत सिंह
साईकिल ले कर चलते थे उस समय
भीमराव अम्बेडकर भारत और इंग्लैण्ड
फ्लाइट से आते जाते थे,,
जब राम प्रसाद बिस्मिल जी भुने चने खा
कर क्रान्ति की ज्वाला में खुद जल रहे थे
तब भीमराव अंबेडकर ब्रिटेन के गवर्नर के
शाही भोज में शामिल होते थे,,
जब सारा भारत स्वदेशी के नाम पर
विदेशी कपड़ों की होली जला रहा था तब
भीमराव अम्बेडकर कोट पैंट और टाई पहन
कर चलते थे,,
जब भगत सिंह एक वकील को मोहताज़ था
तब बैरिस्टर वकील भीमराव अंबेडकर
अंग्रेज अफसरों के मुकदमे लड़ रहे थे ....
और अंत में वही बन गया भारत भाग्य
विधाता ........
उसी को मिली भारत की नींव भरने की
जिम्मेदारी ....
अंजाम सब देख रहे हैं,,

.
.
कड़वा है पर शतप्रतिशत सत्य है
शायद किसी को हजम ना हो.....


Feb. 8, 2017

*****शुभ रात्रि*****

*****शुभ रात्रि*****

by RoorkeeWeb

"सबंध" ज्ञान एवं पैसे
से भी बड़ा होता है,
क्योकि.........
जब ज्ञान और पैसा विफल हो जाता है, तब "सबंध" से स्थिति सम्भाली जा सकती है..!
"मधुर सबंध" बनाकर जीवन सार्थक कीजिये......! *हँसते रहिये , हंसाते रहिये
सदा मुस्कुराते रहिये !

 *****शुभ रात्रि*****


Feb. 8, 2017

आपका दिन मंगलमय हो

आपका दिन मंगलमय हो

by RoorkeeWeb

एक बार एक पति ने भगवान से पूछा,

मेरी पत्नी क्यों उस गुलाब से प्यार करती है जो रोज मर जाता है,
और मुझसे प्यार नहीं करती जिसके लिए मैं रोज मरता हूँ।

काफी देर सोचने के बाद भगवान ने जवाब दिया,


'मस्त है.. वॉट्सऐप पर डाल दे'